पाकिस्तानियों ने फ़ेसबुक पोस्ट से की पुलवामा हमले की निंदा 228

Girl protester image पाकिस्तानियों पुलवामा हमले निंदा

एक पाकिस्तानी पत्रकार की #antihatechallenge #antiwar पहल से कई पाकिस्तानियों ने जुड़कर एक आवाज़ में पुलवामा में CRPF के जवानों पर हुए हमले की निंदा की 

सेहर मिर्ज़ा अपने देश पाकिस्तान की एक पत्रकार हैं। 14 फ़रवरी को हुए भीषण आतंकी फ़िदायीन हमले में CRPF के 40 से ज़्यादा जवान शहीद हुए। दुनिया भर से भारत के इस सुरक्षा बल पर हुए हमले की कड़ी निंदा हुई और अफ़सोस व्यक्त किया गया। 

लेकिन पाकिस्तान की सरहद के अंदर फल-फूल रहे जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन जिसने पुलवामा हमले की ज़िम्मेदारी ली उस देश ने सरकारी तौर पर आज तक कोई अफ़सोस व्यक्त नहीं किया।

उसने सिर्फ़ ये कहा कि इस हमले में पाकिस्तान का कोई हाथ नहीं है और भारत को अगर लगता है कि पाकिस्तान की इसमें भागीदारी है तो भारत सबूत दे। इसके विपरीत पाकिस्तान की एक आम नागरिक सेहर मिर्ज़ा ने पुलवामा हमले की निंदा की।

पढ़िये : चीन से जुड़े वो चार कारण जिससे मसूद अज़हर अब तक ग्लोबल टेररिस्ट नहीं घोषित किया जा सका

नफ़रत के विरुद्ध पहल 

पाकिस्तानी पत्रकार सेहर मिर्ज़ा ने एक फ़ेसबुक ग्रुप Aman ki Asha पर एक पोस्ट की #antihatechallenge #antiwar हैशटैग्स ले कर। इस फ़ोटो में सेहर एक पोस्टर ले कर खड़ी हुई हैं जिसमें लिखा है की वो पाकिस्तानी हैं और पुलवामा आतंकी हमले की निंदा करती हैं। 

उन्होंने अपनी इस सोच से सहमति रखने वाले दुसरे पाकिस्तानियों से इस ग्रुप में अपील की कि वो भी उनकी इस पहल के साथ जुड़ें। उनकी इस पोस्ट को देखकर दुसरे पाकिस्तानियों ने भी अपने फ़ोटो पोस्टर हाथ में लिए इस ग्रुप में शेयर किया और पुलवामा हमले की निंदा की।

सरहद पार से आई लड़ाई के विरुद्ध आवाज़ 

जहाँ भारत और पाकिस्तान के मीडिया चैनल आक्रामक हो गए हैं और एक दुसरे को धमकी दे रहे हैं बम और लड़ाई की, सरहद पार से ऐसी आवाज़ आना कि दोनों देशों में कोई लड़ाई नहीं होना चाहिए और शान्ति बनी रहनी चाहिए — इस आवाज़ का स्वागत किया जा सकता है। लड़ाई की स्थिति में दोनों ही देश भारी नुक्सान उठाएंगे।

आने वाले दिनों में देखना ये है कि भारत सरकार पाकिस्तान को किस तरह पुलवामा हमले का शक्तिशाली जवाब देता है कि जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठन नुमा सांप भी मर जाए और लाठी भी न टूटे।   

Previous ArticleNext Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *